HomeTally ERP 9

Tally Features Settings क्या है? पूरी जानकारी जाने

Dosto क्या आप टैली course कर रहे है मगर कभी 2 आपको ये समस्या आती है कि टैली में कौन-2 सी settings है और वो settings कहाँ पर होती है जिस से उनको activate करके हम उनको use कर सके??ऐसा आपके दिमाग मे जरूर से आता होगा? आज हम इसी बारे में आपसे बात करेंगे कि tally features settings क्या है? टैली features settings का आखिर use क्या है? इनका उपयोग करके हम नए features का उपयोग कैसे कर सकते है सभी के बारे में विस्तारपूर्व चर्चा आज के इस आर्टिकल में जाने।

Tally All Features Setting Explained:-

मैंने बहुत से लोगो को देखा है कि उनको टैली तो आता है मगर आपको टैली की settings पता नही होती है कि कौन से settings को on/off करने से क्या results आते है,ऐस में देखा जाए तो टैली में कुछ ऐसे features है जो hide रहते है उनको हम settings से ही अपनी जरूरत के अनुसार on/off कर सकते है? तो आइए आज हम उन सभी features को जाएगे और साथ ही साथ ये भी जानेंगे कि उन सभी features का क्या उपयोग है।

tally features settings

इन आर्टिक्ल को भी पढे?

Tally features में 3 types आते है आइये जानते है कि उन features में आखिर क्या settings होती है।
1:-Accounting features
2:-Inventory Features
3:-Statuary Features
आइये इन सभी के features की settings के बारे में विस्तारपूर्व जाने।

Accounting Features All Settings Explain:-

सबसे पहले हम accounting features की सभी settings के बारे में विस्तार से जानते है? आइये एक -2 settings के बारे में discuss करे।

accounting setting

General:-

  • Maintain Account only:- इसको आप अपनी मर्जी के अनुसार on या off कर सकते है। आपको अगर सिर्फ अपने accounts को maintain करना है तो इस setting का use करते है।
  • Integrate accounts and inventory:- आप इसके जरिये accounts और inventory दोनो ही सेटिंग्स को एक साथ integrate कर सकते है।
  • Use income and expenses account instead of profit and loss a/c:-
  • Enable multi-currency:- अगर आप multi करेंसी का use करना चाहते है तो इस feature को enable कर सकते है।

 

Outstanding Management:-

  • Maintain bill wise details:- अगर आपको bill wise details को maintain करना है तो आप इस setting को on या off कर सकते है।
  • Active interest calculation:-अगर आपको टैली में interest calculation feature को active करना है तो आप इस setting को on या off कर सकते है।

 

Cost/Profit center management:-

Maintain payroll:-अगर आपको टैली में salary payroll को manage करना है तो आप इस feature के जरिये बहुत ही आसानी से payroll को active कर सकते है।

Maintain cost center:-Cost center और job costing से संबंधित सभी settings को आप यहाँ से ककर सकते है।

Invoicing:-

Enable invoicing:- अगर आपको invoicing feature को active करना है तो आप यहाँ से setting कर सकते है।

Use debit and credit notes:- अगर आपको टैली में debit और credit note को active करना है तो आप यहाँ से बहुत ही आसानी से active कर सकते है।

use credit notes in invoice mode:-अगर आपको credit note invoice mode में active करना है तो आप इस setting से बहुत ही आसानी से इसको active कर सकते है।

use Debit notes in invoice mode:-अगर आपको Debit note invoice mode में active करना है तो आप इस setting से बहुत ही आसानी से इसको active कर सकते है।

Budget and Scenario management:-

maintain budget and control-आप इस setting के जरिये टैली में budget को manage कर सकते है।

use reserving journal and optional Vouchers- टैली में बहुत सारे optional वाउचर होते है आप इस settings से reserving journal और optional voucher को बहुत ही आसानी से manage कर सकते है।

Banking Features:-

Enable cheque printing- आप cheque printing settings को टैली में कर सकते है।

set/alter transaction types- Transaction से संबंधित सभी types को यहाँ से manage कर सकते है।

set/alter banking features- Banking से संबंधित सभी settings को आप alter और set कर सकते है।

set/alter post-dated transaction features- Post dated transaction को आप यहाँ से बहुत ही आसानी से manage कर सकते है।

Others Features:-

enable zero value transaction- Zero value मतलब की free offers से संबंधित सभी settings को आप यहाँ से manage कर सकते है।

maintain multiple and mailing details for company and ledgers- mailing details जैसे कि company की और ledgers की, टैली में बहुत ही आसानी से manage कर सकते है।

enable company logo- आप यहाँ से अपनी company का logo आसानी से लगा सकते है।

mark changed vouchers- Mark change vouchers को आप टैली में इस setting के जरिये use कर सकते है।

Inventory Features All Settings Explain:-

Inventory features की सभी settings के बारे में विस्तार से जानते है? आइये एक -2 settings के बारे में discuss करे।

inventory setting

General:-

Integrate accounts and inventory:-:-अगर आपको account और inventory दोनों की एक ही साथ integrate करना है मतलब की accounts और inventory दोनों ही features को अपनी कंपनी मे enable करना है तो आप इस settings का use करे।

Enable zero value transaction:-Zero value मतलब की free offers से संबंधित सभी settings को आप यहाँ से manage कर सकते है।

Storage and classification:-

Maintain multiple locations-आप यहाँ से godown option को टैली में एक्टिव कर सकते है।

Maintain stock category-Stock category को आप बहुत ही आसानी से इस settings के जरिये active कर सकते है।

Maintain batch-wise details- टैली में batch-wise details को आप इस settings से active कर सकते है।

Use separate actual and billed quantity columns- आप टैली में Separate actual and billed quantity के columns को बहुत ही आसानी से manage कर सकते है।

Order processing:-

Enable purchase order processing-आप टैली में purchase order को इस setting के जरिये manage कर सकते है।

Enable sale order processing-आप sale के सभी orders को यहाँ से manage कर सकते है।

Enable job order processing- job work और job order से संबंधित सभी entry को आप यहाँ से मैनेज कर सकते है।

Invoicing:-

Enable invoicing:- अगर आपको invoicing feature को active करना है तो आप यहाँ से setting कर सकते है।

Use debit and credit notes:- अगर आपको टैली में debit और credit note को active करना है तो आप यहाँ से बहुत ही आसानी से active कर सकते है।

use credit notes in invoice mode:-अगर आपको credit note invoice mode में active करना है तो आप इस setting से बहुत ही आसानी से इसको active कर सकते है।

use Debit notes in invoice mode:-अगर आपको Debit note invoice mode में active करना है तो आप इस setting से बहुत ही आसानी से इसको active कर सकते है।

use separate discount column invoice:-अगर टैली में आपको seprate discount column को add करना है तो आप इस settings से कर सकते है।

Purchase Management:-

Track additional cost of purchase- addition cost को आप यहाँ से yes or no कर सकते है।

Sale Management:-

Use multiple price level- टैली में price level और price लिस्ट को आप यहाँ से manage कर सकते है।

Other features:-

use tracking numbers (enable delivery and receipt notes):-आप टैली में tracking number के जरिये delivery और receipt note को बहुत ही आसानी से maintain कर सकते है।

use rejection inward and outwards notes:-टैली में rejection in और rejection out voucher को आप यहाँ से active कर सकते है।

use material in and out vouchers:-Material in और material out voucher को आप यहाँ से maintain कर सकते है।

use cost tracking for stock items:-आप टैली में cost tracking से संबंधित सभी stock items की settings को manage कर सकते है।

Statutory Features All Settings Explain:-

Statutory features की सभी settings के बारे में विस्तार से जानते है? आइये एक -2 settings के बारे में discuss करे।

Taxtation setting

  • Enable Goods and Service Tax(GST):-अगर आपको जीएसटी को enable करना है तो आप इस Option मे जाकर बहुत ही आसानी से जीएसटी को enable कर सकते है।

Set/Alter GST details:- इस setting मे आप अपनी कंपनी से संबन्धित जीएसटी details को set कर सकते है।

  • Enable Value Added Tax (VAT):-अगर आपको VAT(Value added Tax) को enable करना है तो आप इस Option मे जाकर बहुत ही आसानी से VAT को enable कर सकते है मगर जब से जीएसटी भारत मे आया है अब हमको VAT की जरूरत नहीं है।

Set/Alter VAT details:- इस setting मे आप अपनी कंपनी से संबन्धित VAT की सभी details को set कर सकते है।

  • Enable excise:-अगर आपको Exise को enable करना है तो आप इस Option मे जाकर बहुत ही आसानी से Exise को enable कर सकते है

Set/Alter excise details-इस setting मे आप अपनी कंपनी से संबन्धित Exise की सभी details को set कर सकते है।

  • Enable service tax:-अगर आपको Service Tax को enable करना है तो आप इस Option मे जाकर बहुत ही आसानी से Service Tax को enable कर सकते है

Set/Alter Service tax details-इस setting मे आप अपनी कंपनी से संबन्धित ServiceTax की सभी details को set कर सकते है।

  • Enable tax deducted at source (TDS):-अगर आपको TDS को enable करना है तो आप इस Option मे जाकर बहुत ही आसानी से TDS को enable कर सकते है

Set/Alter TDS details-इस setting मे आप अपनी कंपनी से संबन्धित TDS की सभी details को set कर सकते है।

  • Enable Tax Collection at the Source (TCS):-अगर आपको TCS को enable करना है तो आप इस Option मे जाकर बहुत ही आसानी से TCS को enable कर सकते है

Set/Alter TCS details-इस setting मे आप अपनी कंपनी से संबन्धित TCS की सभी details को set कर सकते है।

  • Enable Payroll Statutory:-अगर आपको Payroll को enable करना है तो आप इस Option मे जाकर बहुत ही आसानी से Payroll को enable कर सकते है

Set/Alter Payroll Statutory details-इस setting मे आप अपनी कंपनी से संबन्धित Payroll की सभी details को set कर सकते है।

PAN/Income tax no:- अगर आपको अपनी कंपनी का PAN/Income tax no को भरना है तो आप इस setting मे जाकर सभी details को भर सकते है।

Company identity no (CIN):-अगर आपको अपनी कंपनी का CIN को भरना है तो आप इस setting मे जाकर सभी details को भर सकते है।

Technical Cube Tally Hindi Notes free Download

ebook

Free Sample Download Now

Tally Hindi Notes को Buy कैसे करे ??

Tally Hindi Notes Buy only 20 rs

इन आर्टिक्ल को भी पढे?

पोस्ट से संबन्धित सारांश :-

आज के  इस आर्टिक्ल मे मैंने आपको ये बताया की Tally features Settings क्या है? इन settings का आखिर क्या उपयोग है? टैली features settings को कैसे active करे?? टैली settings से संबंधित पूरी जानकारी आज मैंने आपको दी।

अगर आपको tally settings में कोई भी समस्या हो तो आप मुझे मेल कर सकते है, मैं जल्दी ही आपकी Problem को सॉल्व करने की पूरी kosis करुगा . Tally, Busy Accounting Software मे अगर आपको किसी भी तरह से परेशानी आए तो आप मुझसे Contact करके पूछ सकते है।

मैं उम्मीद करता हु की ये आर्टिक्ल आपको पसंद आया होगा, अगर आपको ये आर्टिक्ल पसंद आया तो इसको सोश्ल मीडिया पर अपने दोस्तो के साथ जरूर से शेयर कीजिए, जिस से उनको भी ये जानकारी प्राप्त हो सके।

Plz Apna Review जरूर दे, आपको हमारी website मे क्या पसंद आया जरूर बताए, नीचे दिये बटन पर click करके review जरूर लिखे।

Review on Technical Cubeshare Technicalcube

इस Article को पढ़ने के लिए धन्यवाद ! Technical Cube मे दुबारा Visit

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *