HomeTally ERP 9

टैली में Accounting Vouchers क्या है? आइये जाने

Hii Friends! आपने कभी ना कभी कही ना कही voucher का नाम तो जरूर से सुना होगा, आखिर ये voucher होते क्या है? अक्सर हम बैंक में जाते है तो इस शब्द को सुनते है, तो दिमाग मे आता है कि banking sector या Accounting field में इन vouchers का क्या मतलब है। अगर आप ये जानना चाहते है तो ये आर्टिकल आपके लिए ही है। आज के इस आर्टिकल में मैं आपको ये बताउगा की Tally Me Accounting Vouchers Kya Hai? Tally Me Vouchers का Use क्या होता है और इन voucher की मदद से हम टैली में कौन सा काम कर सकते है, इन सबकी पूरी जानकारी आज आपको दी जाएगी। तो आये जानते हैं।

Vouchers क्या है? आइये जानते है। What is Vouchers

Voucher एक Basic Document दस्तावेज होता है जिसकी, मदद से हम अपने Business में होने वाली प्रतिदिन की Transaction मतलब की लेन-देन का पूरा हिसाब रखते है, और voucher की मदद से हम इसको आसानी से टैली में एंट्री पोस्ट कर सकते है।

आज से कुछ सालों पहले हम Manually मतलब पेपर पर अपना एकाउंट को लिखा करते थे, और एक रजिस्टर बनाकर उसमें प्रतिदिन की लेन देन का पूरा हिसाब लिखकर रखते थे जैसे कि किस से कितना माल खरिदा, किस को कितना माल बेचा, किस व्यक्ति से कितनी Payment लेनी है और किस को हमको कितनी Payment देनी है, किस Person की Payment आई आदि। मगर जब से Tally ERP 9 Software आया है हम अपनी रोज की Transaction ( Sale, Purchase, Payment,Receipt और Bank se Related sabhi Transactions) को Tally में Accounting Voucher की मदद से कर सकते है।voucher की Help से एंट्री करना काफी ज्यादा आसान हो गया है।

tally me vouchers kya hai

“Voucher is A Basic Recording Document Day To Day Transaction is Entered, in Tally Through Vouchers. It is a key to all business information entering the transaction through voucher is Called Creating a Voucher.”

इन आर्टिकल को पढ़े।

Accounting Voucher क्या है?

Accounting Voucher का मतलब उन Vouchers से है जो Accounts की Basic Transaction को Store करने के लिए करते है
Accounting Vouchers ही आपके सारे Business की ऐसी Key है जिसके जरिए आप अपनी लेन देन का हिसाब रखते है,बस इन्ही vouchers की मदद से। अगर आपके पास सभी Vouchers Available है तो आप बहुत ही आसानी से अपनी Company के Status को निकल सकते है,और अपनी Balance Sheet को Match कर सकते है। जब भी आप अपने Business में कोई भी Transactions करते है तो वो Accounting Vouchers की ही मदद से करते है।

Tally में हमको Business Transactions करने के लिए कई सारे Vouchers मिलते है,जिनकी मदद से हम अपने सभी Transactions को कर पाते है। जब भी हम कोई Transaction करते है तो उसको हम (Voucher Pass, Pass A Transaction या फिर Voucher Entry) करना कहते है।

Overview Of Accounting Vouchers:-

Accounting Voucher में जाने के लिए आपको सबसे पहले Gateway Of Tally में जाना होगा, यह आपको Transactions Options दिखाई देगा, आप इस ओर क्लिक करे, यहाँ पर आपको कई सारे Accounting Voucher मिलेंगे,आपको जिस Accounting Vouchers की जरूरत है,आप उस पर क्लिक करे, वो voucher खुल जाएगा।

accounting voucher

Types Of Accounting Vouchers:-

Accounting Voucher Basically Jo Bahut Jada Use Hote hai Wo Kuch Is Tarah Se Hai.

1.Contra Vouchers
2.Payment Voucher
3.Receipt Voucher
4.Journal Voucher
5.Sale Voucher
6.Purchase Voucher

7.Debit Note

8.Credit Note

1.Contra Vouchers: Contra Voucher का उपयोग हम तब करते है,जब हमको Bank में ( Cheque Ya Cash Deposit) करना होता है तो,या फिर Bank से paise निकालते है,या तो जब पैसे किसी को Transfer करते है,किसी एक Bank से दूसरे Bank में तो हम उस समय Contra Voucher का उपयोग करते है। Contra Voucher में केवल ( Cash Aur Bank Account) ही Debit/Credit कर सकते है इसके सिवा आप किसी और Group का Use नही कर सकते है।

contra voucher

4 Types Of Transaction in Contra Vouchers.

A. Cash Deposit in Bank.
B. Cash Withdrawn From Bank.
C. Loan from Bank.
D.Loan Repayment From Bank.

Some Important Point Of Contra Vouchers.
1. अगर किसी Bank में Paise जाना किये जाएंगे,टी हम उस Bank Account को Debit Karega और Cash Account Means जमा करने वाला Account Credit करेगा।
2. अगर Bank से पैसे निकाल रहे गई तो Bank Account Credit करेगा और Cash Account Debit करेगा।
3 अगर एक Bank का Cheque, Dusare Bank में जा रहा है तो पहला Bank Credit करेगा और दूसरा Bank जिसमे cheque Diya दिया गया है वो Debit होगा।

2. Payment Voucher: Tally में Payment Voucher वो होता है,जब भी हम (Cash Or Cheque) से किसी को Payment करते है मतलब की Business से Paisa बाहर जा रहा हो , फिर वो किसी भी तरह से जाए, तो हम उस समय ऐसी सभी एंट्री को Payment Voucher में करते है। tally में Payment Voucher Open करने के लिए अपने कीबोर्ड से Short Key (F5) दाबे आपका payment voucher खुल जाएगा.

Example:- हमने किसी से Goodsमाल Purchase किया,मतलब की goods माल आया business में और पैसा गया, मतलब की उसको हमने Payment करे, अब वो चाहे cash में करे या फिर cheque से या आप online, वो आपकी मर्जी।

payment voucher

3. Receipt Voucher: Receipt का मतलब होता है कि पैसा हमारे बिज़नेस में आया,अब वो चाहे cash में आये या चेक़ से या online आये। कहने का साफ मतलब ये है कि जब भी Hamare Business में पैसा कही से आता है, Means Amount Receipt जब होती है तो ऐसी सभी Entry को हम Receipt Voucher में करते है।

Example:- अगर आप Interest Receipt कर रहे हो तो Receipt Voucher का उपयोग करेंगे।

receipt voucher

4. Journal Voucher: Journal Voucher एक तरह का Adjustment voucher होता है,जिसके जरिये हम टैली में Adjustment Entry को post करते है। Journal Voucher में हम (2 Accounts) के बीच मे Amount को Adjust करते है,Without किसी Physical Fund को Use किये बिना, अगर आपको ऐसी कोई एंट्री करनी हो तो आप journal voucher का उपयोग करेंगे।

वैसे देखा जाए तो ऐसी सभी Entries जिसमे (Dr Aur Cr) में Cash Or Bank नही आते है,उन सभी Entries को हम Journal Voucher में करते है।

Example:- Purchase Return, Sale Return, Goods के सिवा कोई (वस्तु) उधार Purchase करने पर, Depreciation Of Fixed Assets Etc,जैसी सभी Transactions की Entry कर लिए हम journal Voucher का उपयोग करते है।

journal voucher

5. Sale Voucher: Sale Voucher में आपको केवल एक ही Entry करनी होती है, वो होती है माल(goods) को उधार बेचने पर,कहने का मतलब ये है कि (Goods Sold On Credit). अगर आप माल Goods को Credit उधार पर Sale करते है तो आपको Sale Voucher में Entry को post करना होगा।Sale voucher का उपयोग आप उस conditions में करे जब आप, Regular Course Of Business कर रहे हो मतलब की उन चीजों को Sale कर रहे हो जिन्हें आपने खरिदा ही था,उसको बेचने के लिए।उन चीजों के लिए नही जो आपकी Fixed Assets संपत्ति है।

sale voucher

6.Purchase Voucher: आप जब किसी तरह की की खरेदीदारी करते है टैली में तो उसकी सभी Entry को हम purchase Voucher में करते है Generally Purchase हम लोग उधारी में करते है यही की Credit में करते है। Tally हमको दोनो ही तरह की Entry करने की Facility Provide करता है ,फिर वो चाहे Cash Me Purchase हो या फिर Credit Me Purchase हो।

purchase voucher

7- Debit Note:-जब हम किसी Party से माल मंगवाते है या माल Purchase करते है , और जो सामने वाली Party Maal माल हमको Sellout करती है, उसमे से कुछ Items जब Defect Quality का, या फिर Bad खराब Quality का Damage Goods हमको Receive हो जाता है तो ऐसी Condition में हमे उस Party को माल Return करना होता है जिसके लिए हम Debit Note का Use करते है।Debit Note को खोलने की Shortcut Key (Ctrl+F9) होती है।

debit note

8:- Credit Note:-जब भी हमारे Customers किसी Condition की वजह से हमको Goods माल को Return करते है मतलब की जब भी Sale Return होती है तो इन सभी Entries के लिए हम Credit Note का Use करते है। Credit Note को खोलने की Shortcut Key (Ctrl+F8) होती है।

credit note

Tally Hindi Notes को Buy कैसे करे ??

Tally Hindi Notes Buy

इन आर्टिकल को भी पढ़े।

Technical Cube Tally Hindi Notes free Download 

ebook

Download Now

Tally Hindi Book Buy on Amazon

Click the Buy Now

tally book

Tally Hindi GST Book Buy on Amazon 

Click the Buy Now

tally gst book

कुछ Important Debit Credit Rules?

  • Personal Accounts:- Debit: The Receiver or Debtor Credit: The Giver or Creditor
  • Real Accounts: Debit: What comes in Credit: What goes out
  • Nominal Accounts: Debit: All Expenses & Losses Credit: All Incomes & Gains

Tally Study Materials Download PDF:-

Tally ERP 9 Ke Notes, Syllabus, Inventory Notes, Shortcut keys PDF Me Download Karne Ke Liye Link Par Click Karke Download Kare.

About The Post:-

आज मैंने आपको ये बताया कि Tally Me Vouchers Kya Hai. Tally Me Accounting Vouchers Kitne Tarah Ke Hote hai और इन  Accounting Vouchers की मदद से आप कौन सी Entries को Tally में कर सकते है।

अगर आपको कंपनी बनाने मे कोई भी परेशानी हो तो आप मुझे मेल कर सकते है , मैं जल्दी ही आपकी परेशानी को दूर करने की पूरी कोशिश करुगा। मैं उम्मीद करता हु की आपको ये आर्टिक्ल पसंद आया होगा, अगर आपको ये आर्टिक्ल पसंद आया हो तो इसको सोश्ल मीडिया पर अपने दोस्तो के साथ जरूर से शेयर कीजिए, जिस से उनको भी ये जानकारी प्राप्त हो सके।

इस Article को पढ़ने के लिए धन्यवाद ! Technical Cube मे दुबारा Visit करे.

Comments (4)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *