HomeTally ERP 9

Tally में Adjustment entries क्या है? Adjustment entry in tally

Friends आप सबकी काफी request आई थी कि adjustment entry से related जानकारी आप शेयर करे? ये सवाल तो सबके दिमाग मे आता है कि adjustment entry को हम क्यों करते है तो दोस्तो आज मैं आपके इन सभी सवालो के जवाब लेकर आया हूं। आज के इस article में मैं आपको बताउगा की Adjustment entries क्या है, इसका क्या उद्देश्य होता है?Adjustment entries in tally with example? financial year के End होने के बाद कौन 2 सी adjustment entries की जाती है और उनका हमारे final accounts पर क्या effect पड़ता है, all adjustment entry in tally से सम्बंधित सभी जानकारी आज के इस article में आपको मिलेगी,तो आप article को पूरा पढ़े।

इस आर्टिकल में मैं mainly focus करूंगा कि आपको बताऊ, Outstanding Expenses, Prepaid Expenses, Accrued incomes, Drawing, Unearned Incomes इन सभी की adjustment entries के बारे में हम बात करेगे।

Adjustment Entries क्या है? Adjustment entries in tally with example

Financial year की समाप्ति के बाद हमको कई तरह की Adjustment entries को tally में post करना होता है क्योंकि बहुत सारी ऐसी एंट्रीज होती है जिनको हमको adjust करना होता है कुछ expenses होते है कुछ incomes होती है। adjustment करके ही आप अपने business की final books को maintain कर सकते है।
अक्सर ऐसी सभी adjustment entry एक C. A ही करता है अपने client से information लेने के बाद then वो आपकी Balance sheet को finally बना पाता है। Balance sheet के बनाने के बाद ही आपको business में कितना loss हुआ, कितना profit हुआ वो सब आप जान पाते है 

Adjustment entry in tally

इन आर्टिक्ल को भी पढे:-

Adjustment entries का उद्देश्य क्या है? आइये जाने।

Adjustment entry का उद्देश्य जानने के लिए नीचे दिए गए points को ध्यानपूर्वक पढ़े।

Adjustment entries का उद्देश्य मुख्य रूप से final account से related है और हमारा final account मुख्य रूप से generally Trading account, Profit and loss account और Balance sheet को बनाया जाता है।
Adjustment entries जो हम year के end होने पर करते है उनके माध्यम से हमारे business की financial position हमको मालूम होती है

Suppose की किसी investors या businessman को हमारे business में पैसे invest करना है तो वो हमारे final account को देखकर ही हमारे business में invest करेगा क्योंकि final एकाउंट्स को देखकर ही उसको पता चलेगा कि हमारे business की financial position आखिर क्या है?

जब हम अपनी Books में adjustment entries को पास कर लेते है, तो हमारे final एकाउंट्स, हमारे business की, Original picture को proper way में represent करते है। हम अपनी books में current year से सम्बंधित income को लिखते है, मगर मैं आपको clear कर दु की कुछ incomes ऐसी भी होती है, जो हमको current financial year में प्राप्त नही होती है मगर उसका relation current financial year से होता है तो adjustment एंट्री के जरिये हम उस income को अपनी books में record करते है ताकि हमारा profit and loss account proper income को show कर सके।

Same as it is कुछ Expenses ऐसे होते है जिनका relation current financial year से होता है मगर वो expenses हम next financial year में करते है मगर देखा जाए तो उनका relation current financial year से होता है इसलिए इनको भी हमे अपनी बुक्स में adjustment entry को पास करते हुये tally में record करना होता है ताकि हमे हमारे profit and loss account में जो खर्चे है उनको हम proper तरिके से show कर सके।

Adjustment entries का main purpose यही होता है कि हमे अपनी सभी तरह की incomes और सभी तरह के expenses को अपनी books में record करना होता है जिनका relation current financial year से होता है।

आइये जानते है कुछ important Adjustment Expenses/ Incomes के बारे में? year-end adjustment entries in tally

1:-Outstanding Expenses: ऐसे expenses जिनका सम्बन्ध current financial year से होता है लेकिन इसका भुगतान इस financial year में नही किया गया होता है तो ऐसे सभी expenses को हम Outstanding Expenses कहते है।
जैसे:- Outstanding Salary, Outstanding Rant आदि।

2:- Prepaid Expenses: ऐसे expense जिनका relation next financial year से है मगर उनका payment current financial year में कर दिया जाता है ऐसे सभी Expenses को हम Prepaid Expenses के नाम से जानते है।

3:-Accrued Incomes: Accrued income को हम बकाया आय भी कहते है ऐसी income जो current financial year से related होती है मगर हमको current financial year में received नही होती है अपितु वो income हमको next financial year में received होती है तो ऐसी सभी income को हम outstanding income के नाम से भी जानते है।

Suppose आपको Interest received होना था 31 मार्च तक sure हो गया था कि interest मिल जाना चाहिए मगर जब वो interest हमको नही मिलता है तो हमको अपनी बुक्स को 31 march को close करना होता है

ऐसी income जो हमे next financial year में received होने वाली है उसकी भी adjustment entry को हमको अपनी books में करनी होती है। क्योंकि ऐसी सभी incomes चाहे वो received हुई हो या ना received हुई हो लेकिन यदि उसका रिलेशन current financial year से है तो उनको हमे अपनी books में record करना होता है।

4:-Unearned income/Income Received in advance: ऐसी income होती है जो कि हमको अपनी किसी party से Advance में received हो जाती है लेकिन real में इसका relation next financial year से होता है और वो इनकम हमको current financial year में ही received हो जाती है जैसे advance commission, Advance rant आदि।

Suppose की हमको commission received होता है 1500 rs और हमने सामने वाली party से ये fix किया था 100 rs per month का commission received होगा मगर सामने वाली party ने हमे year के starting में ही 1500 rs total commission pay कर दिया है vistav में 100 rs के हिसाब से 12 months के हमे 1200 रुपये ही मिलने चाहिए थे लेकिन हमको मील है total 1500 rs अब इस 1500 rs में से इस साल की जो इनकम है वो 1200 रुपए है और 300 rs है वो हमको इस income में से less करने होंगे उसको हम unearned income कहेंगे और इसका adjustment हमे balancesheet में हमको liabilities में show करना होगा की real में ये हमारी इस साल की income नही है ये हमारी next year की income है।

ये main 4 types की Adjustment थी जो आपको करनी required है इसके सिवा कुछ others adjustment एंट्रीज होती है जिनको आपको post करनी होती है।
A:- Depreciation adjustment
B:- Provisions for a discount for Debtors
C:- Provisions for a discount for Creditors
D:- Provisions for doubtful debts
E:- Interest for capital
F:- Interest for Drawing
G:- Commission to manager
H:- Common Debts
I:- Adjustment related to goods

Technical Cube Tally Hindi Notes free Download

ebook

Free Sample Download Now

Tally Hindi Notes को Buy कैसे करे ??

Tally Hindi Notes Buy only 20 rs

Tally English Notes को Buy कैसे करे ??

Tally Hindi Notes Buy only 79 rs

इन आर्टिक्ल को भी पढे:-

पोस्ट से संबन्धित सारांश :-

आज के  इस आर्टिक्ल मे मैंने आपको ये बताया की Adjustment entries क्या है, इसका क्या उद्देश्य होता है?Adjustment entries in tally with example?  Adjustment Entry se related पूरी जानकारी आज मैंने आपको दी।

अगर आपको Tally me Adjustment entries बनाने मे कोई भी समस्या हो तो आप मुझे मेल कर सकते है, मैं जल्दी ही आपकी Problem को सॉल्व करने की पूरी Kosis करुगा . Tally, Busy Accounting Software मे अगर आपको किसी भी तरह से परेशानी आए तो आप मुझसे Contact करके पूछ सकते है। 

मैं उम्मीद करता हु की ये आर्टिक्ल आपको पसंद आया होगा, अगर आपको ये आर्टिक्ल पसंद आया तो इसको सोश्ल मीडिया पर अपने दोस्तो के साथ जरूर से शेयर कीजिए, जिस से उनको भी ये जानकारी प्राप्त हो सके।

आपको इस Article में क्या पसंद आया, कृपया जरूर बताए, और अगर आपका कोई सवाल हो तो आप नीचे Comment करे, आपको मैं Instant जवाब देने की पूरी कोशिश करूंगा।

Plz Apna Review जरूर दे, आपको हमारी website मे क्या पसंद आया जरूर बताए, नीचे दिये बटन पर click करके review जरूर लिखे।

Review on Technical Cubeshare Technicalcube

इस Article को पढ़ने के लिए धन्यवाद ! Technical Cube मे दुबारा Visit करे.

Comments (3)

  • Dear Sir,
    Good Evening,
    Sir, very nice topic. Sir isse related tally ledger creation and group or some Tally entry bhi post karain. Thanks

    Reply
  • Dear Sir, Tally mai fixed assets purchase karne ke baad us par prityek year deprecation or adjustment entry ke bare mai bhi bataye or debitors par bad debt ki entry ko samjaye. Very very thanks

    Reply
    • Yes my friend… Adjustment entry bhi hm post karege just because ye topic kafi critical hai to sabhi ko ek article me cover kar pana easy nahi hai isliye hm parts me adjustment entry ko upload kar rahe hai baki mujhe entries karne aur article ko hindi me likhne explanation me thoda time lagega but don’t worry aapko sabhi jankari mai provide karuga…Visit karte rahe Technical cube me..

      Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *